hindi ki bindi

Listen Music & FM channels

हे शारदे मां, हे शारदे मां,
अज्ञानता से हमें तार दे मां
तू स्वर की देबी है संगीत तुझसे,
हर शब्द तेरा है हर गीत तुझसे |
हम हैं अकेले हम हैं अधूरे,
तेरी शरण में हमें प्यार दे मां ||
हे शारदे मां हे शारदे मां,
मुनियों ने समझी गुनियों ने जानी,
बेदों की भाषा पुराणों की बानी |
हम भी तो समझें हम भी तो जाने,
विद्या का हमको अधिकार दे मां ||
हे शारदे मां, हे शारदे मां,
तू श्वेतवर्णी कमल पे विराजे,
हांथों में बीणा मुकुट सर पे साजे |
अज्ञानता के मिटा दे अंधेरे,
उजालों का हमको संसार दे मां ||
हे शारदे मां, हे शारदे मां,

Donate on the occasion of Hindi Promotion Fortnight

HAIN HINDI KE HUM SUB HAMARI HAI HINDI
HAME APNE PRANO SE PYARI HAI HINDI
NIKHARI GAYEE HAI SUBHAG GANGA JAL SEE,
HAI NIRMAL SARSWATI-JAMUNA KE JAL SEE
KASHMIR SE KANYAKUMARI KI HINDI
HAI BHARAT KE MATHE KI ACHHI SI BINDI
HAMARI TUMHARI YE "HindiKiBindi"

हैं हिन्दी के हम सब हमारी है हिन्दी
हमें अपने प्राणों से प्यारी है हिन्दी
निखारी गयी है सुभग गंगा जल सी
है निर्मल सरस्वती जमुना के जल सी
कश्मीर से कन्याकुमारी की हिन्दी
है भारत के माथे की अच्छी सी बिन्दी
हमारी तुम्हारी ये “हिन्दी की बिन्दी”